मेट्रो यात्रियों के लिए खुशखबरी, आज से इस रूट पर ज्यादा समय नहीं लगने वाला है

1
विस, नई दिल्ली: द्वारका से ढांसा बस स्टैंड के बीच मेट्रो की ग्रे लाइन पर सफर करने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। आज से इस लाइन पर मेट्रो की रफ्तार बढ़ गई है, जिससे यात्रा का समय पहले से कम हो सकता है। साथ ही प्लेटफॉर्म पर ट्रेन के आने का इंतजार कर रहे यात्रियों का वेटिंग टाइम भी कम हो जाएगा और जल्द ही उन्हें ट्रेनें मिलने लगेंगी।

दरअसल, डीएमआरसी द्वारा ढांसा बस स्टैंड के पास ग्रे लाइन की ट्रेनों को रिवर्स करने के लिए तैयार ट्रेन रिवर्सल सिस्टम पर सिग्नलिंग का काम अब पूरा हो चुका है। शुक्रवार से नजफगढ़ और ढांसा बस स्टैंड के बीच अप और डाउन दोनों लाइनों पर ऑटोमैटिक सिग्नलिंग सिस्टम के जरिए मेट्रो ट्रेनें चलने लगेंगी। इससे ट्रेनों की गति बढ़ाने में काफी मदद मिल सकती है। अभी तक ग्रे लाइन के इस हिस्से में ट्रेनों को मैनुअल मोड में चलाना पड़ता था और रिवर्सल सुविधा तैयार नहीं होने के कारण ट्रेनों को सिंगल लाइन पर ही चलाना पड़ता था। यानी जिस लाइन से ट्रेन ढांसा बॉर्डर तक पहुंचती थी, उसी लाइन से ट्रेनों को वापस द्वारका भेजना पड़ता था। ट्रेनों को मैनुअल मोड पर चलाने के कारण नजफगढ़ से ढांसा बस स्टैंड के बीच ट्रेनों की गति बहुत धीमी रखनी पड़ी, ताकि कोई दुर्घटना न हो, क्योंकि नई ट्रेन प्लेटफॉर्म से चलती थी. समाप्त करने के लिए प्रयुक्त तैयारी रखें। अब आज से यह समस्या खत्म हो जाएगी और दोनों लाइनों पर ट्रेनें चलने लगेंगी।

Delhi Metro Information: किस रूट पर चलती है दिल्ली मेट्रो के कई रंग, आइए जानते हैं सबकुछ
डीएमआरसी के अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार से ग्रे लाइन पर यात्रियों को पीक ऑवर्स के दौरान 7 मिनट 30 सेकंड की फ्रीक्वेंसी पर ट्रेनें मिलनी शुरू हो जाएंगी, जबकि मौजूदा समय में पीक आवर्स में भी 12 मिनट की फ्रीक्वेंसी पर ट्रेनें चल रही थीं। इसी तरह आज से ट्रेनें सामान्य घंटों में सवा घंटे की बजाय 12 मिनट के अंतराल पर चलेंगी। इसके अलावा अप और डाउन दोनों लाइनों पर एक छोर से दूसरे छोर तक ट्रेनों की आवाजाही शुरू होने से ट्रेनों की गति बढ़ने के साथ ही यात्रा का समय भी कम हो जाएगा और यात्री सफर कर सकेंगे। जल्दी से अपने गंतव्य स्थान पर पहुँचें। इस लाइन पर कुल यात्रा समय करीब चार मिनट कम हो जाएगा और यात्री अब ढांसा बस स्टैंड से द्वारका महज 8 मिनट में पहुंच सकेंगे। यात्री संदीप ने बताया कि उसे नौकरी के लिए रोज नगर पालिका जाना पड़ता है। हालांकि ढांसा स्टैंड पर मेट्रो काफी देर से वापस आती थी। आमतौर पर यह 16 से 17 मिनट के अंतराल पर वापस आ जाता था। ऐसे में यहां से सिर्फ द्वारका जाने में आधा घंटा लग जाता था। आज इसमें केवल सवा घंटे का समय लगा।

वास्तव में, इस लाइन में रिवर्सिंग सिस्टम नहीं था। इसके चलते इस लाइन पर ट्रेनों को मैनुअल मोड में संचालित करना पड़ा। रिवर्स सुविधा नहीं होने के कारण ट्रेन को सिंगल लाइन पर ही चलाना पड़ा। हालांकि अब दोनों स्ट्रेन्स का इस्तेमाल किया जा सकता है। डीएमआरसी के अधिकारियों का कहना है कि पीक आवर्स में यात्रियों को सात मिनट 30 सेकेंड की फ्रीक्वेंसी पर ट्रेन मिलेगी। वहीं, सामान्य घंटों में सवा घंटे की बजाय 12 मिनट के अंतराल पर ट्रेनें चलेंगी। इसके बाद मात्र आठ मिनट में ढांसा बस स्टैंड से द्वारका पहुंच सकेंगे।

Download Lokjanta App

Leave A Reply

Your email address will not be published.