कॉमर्स फेयर फाइनल डे : ट्रेड फेयर में ऑफर्स के दिन इन हॉल में आखिरी 3 दिनों में मिलेगी बंपर छूट

1
प्रियंका सिंह, नई दिल्ली: कॉमर्स ईमानदार अब अपने आखिरी पड़ाव पर पहुंच रहा है। ग्राहक के पास घूमने के लिए सिर्फ 3 दिन बचे हैं। इनमें भी अंतिम दिन यानी 27 नवंबर को दोपहर 2 बजे तक ही टिकट मिल सकेंगे। जबकि शाम 4 बजे तक एंट्री रहेगी। वहीं, इस सप्ताह की शुरुआत से ही रोजाना 60 हजार से ज्यादा विजिटर्स ट्रेड फेयर में पहुंच रहे हैं। सोमवार को 67 हजार दर्शक पहुंचे, जबकि मंगलवार और बुधवार को यह आंकड़ा 70 हजार के आसपास रिकॉर्ड किया गया। आखिरी दिनों में भीड़ बढ़ने की संभावना है। ऐसे में कारीगर और कारोबारी भी लोगों को लुभाने के लिए खास ऑफर दे रहे हैं। खास तौर पर हॉल नंबर 12ए, 11,10 और 9 में बंपर ऑफर्स मिलेंगे। हॉल नंबर 11 में 4 किलो क्रॉकरी 499 रुपये में मिल जाएगी। यहां लड़कियों के सूट के कपड़े एक हजार रुपए में मिल जाएंगे। कॉरिडोर नंबर 12 में ब्यूटी प्रोडक्ट्स के स्टॉल पर हर उत्पाद पर 10 से 20 फीसदी तक की छूट मिलेगी। कॉरिडोर नंबर 5 में भी एक मिलेगा दो फ्री जैसे ऑफर हैं।

पत्थर के आभूषणों के लिए धक्का

राजस्थान के स्टोन ज्वैलरी स्टॉल पर भीड़ देखी जा रही है। दिल्ली के मधु विहार की ग्राहक सुष्मिता ने बताया कि वह हर साल ट्रेड फेयर में स्टोन ज्वैलरी खरीदने आती हैं। उन्हें राजस्थान की लहसुन की चटनी, गुजरात का फाफड़ा भी पसंद है। वहीं जेवर बेच रहे आसिफ ने बताया कि यह उनका पुश्तैनी काम है। ऐसे गहनों की मांग हर साल बढ़ रही है। यह ज्वैलरी जयपुर आने वाले विदेशी पर्यटकों की पहली पसंद होती है। उनके पास एक हजार रुपये से लेकर एक लाख रुपये तक की ज्वैलरी है।

सरस से लेकर दिल्ली और बिहार के पवेलियन तक अच्छी बिक्री

दिल्ली के पवेलियन में रोजाना लाखों की बिक्री हो रही है। वहीं, सरस पवेलियन में 18 नवंबर तक एक करोड़ रुपये से ज्यादा की बिक्री हुई। 21 नवंबर को 50 लाख के करीब का कारोबार हुआ। शुरुआती कारोबारी दिवस में कई महिला कारोबारियों को एक से दो लाख के ऑर्डर मिले। वहीं, बिहार पवेलियन में 22 नवंबर तक 40 लाख का कारोबार हुआ। वहीं, गुजरात पवेलियन में 23 नवंबर तक करीब 50 लाख का माल बिक चुका है।

कॉलेज छात्र भी बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं

ट्रेड फेयर का क्रेज न सिर्फ युवाओं और बड़ों में बल्कि स्कूली बच्चों में भी देखा जा रहा है। रोजाना दिल्ली-एनसीआर के एक-दो स्कूलों के छात्र-छात्राएं अपने शिक्षकों के साथ यहां आ रहे हैं। स्कूल के बच्चों की एंट्री फ्री है।

इस तरह एक बुजुर्ग लड़की के चेहरे पर मुस्कान लौट आई

बढ़ती भीड़ के साथ लोगों को कई तरह की दिक्कतों का भी सामना करना पड़ रहा है। किसी का बच्चा परिवार से बिछड़ रहा है तो कोई अपना सामान भूल रहा है। ऐसे लोगों की मदद और घोषणा के लिए भूतल पर कॉरिडोर नंबर 4 और 7 में केंद्रीय सुविधा केंद्र (सीएफसी) स्थापित किया गया है। अधिकारी स्वीटी के पास हॉल में बैठी एक बुजुर्ग महिला टिकट का रिफंड लेने आई। दरअसल, बुजुर्ग महिला को नहीं पता था कि ट्रेड फेयर में सीनियर सिटीजन की एंट्री फ्री है। उनकी परेशानी कम करने के लिए एक अधिकारी ने उनकी जेब से 80 रुपए निकाले और कहा कि रिफंड करवा देंगे। बूढ़ी लड़की के चेहरे पर मुस्कान आ जाती है। हालांकि, अधिकारी ने कहा कि उनके यहां टिकट वापसी का प्रावधान नहीं है। बच्ची की दुर्दशा देखकर उसने यह निश्चय किया।

Download Lokjanta App

Leave A Reply

Your email address will not be published.